February 24, 2024

यह पुस्तक बिहार के उस गौरवपूर्ण इतिहास को बखान करता है, जिसे आज के हम युवाओ ने भूला कर बिहार के नाम को मात्र एक आलोचनात्मक शब्द बना रखा है। बिहार के इतिहास के बिना भारत के इतिहास कि कल्पना भी नही कि जा सकती, तो ऐसा क्या हुवा जो स्वर्णिम इतिहास सिर्फ इतिहास बन कर ही रह गया ? यह पुस्तक बिहार के अतित पर जहां गर्व करना चाहती है वहीं उसके अंगो के नोचे जाने पर सिसकती भी है, चलिये हम भी उसके साथ कुछ कदम चलते हैं, कुछ गर्व करते हैं और कुछ……?

Check this out: Bihar – Ek Aaine Ki Najar Se Notion Press  https://www.amazon.in/dp/1947027859/ref=cm_sw_r_wa_awdo_t1_teUGAbX07YDT7

https://www.infibeam.com/Books/bihar-ek-aaine-ki-najar-se-ashwini-rai/9781947027855.html

https://www.flipkart.com/bihar-ek-aaine-ki-najar-se/p/itmeu5khtgvhadwz?lid=LSTBOK9781947027855RSSOEX&pid=9781947027855

https://notionpress.com/read/bihar-ek-aaine-ki-najar-se

https://www.shop101.com/Shoot2pen/bihar—ek-aaine-ki-najar-se/7602760494?ohqjqi

 

 

About Author

2 thoughts on “बिहार – एक आईने की नजर से

Leave a Reply