July 22, 2024

त्रिदेव मंदिर काशी दुर्गाकुंड वाले मार्ग पर, तुलसी मानस मंदिर के निकट और संकट मोचन रोड के मोड़ पर स्थित है।

मंदिर का समर्पण…

त्रिदेव मंदिर मां सती और खाटू श्याम जी को समर्पित है। मान्यता है कि मां सती पूजा महाभारत कालीन उत्तरा का पुनर्जन्म थीं। वैसे तो मां सती राजस्थान में बड़े धूमधाम से पूजी जाती हैं।

किंवदंती…

कलियुग में ही किसी समय में राजस्थान के एक वैश्य परिवार में उत्तरा का पुनर्जन्म हुआ था। उसने अपने पति की मृत्यु का बदला लिया और फिर स्वयं सती हो गईं।

मंदिर के अन्य देवता…

मंदिर में पूजा की जाने वाली मुख्य मूर्तियाँ माँ सती और खाटू श्याम जी की हैं। इसके साथ ही यहां गणेश जी, श्रीराम सीता लक्ष्मण, राधा कृष्ण, मां अंजनी, भगवान बालासर, शिव पार्वती एवम सालासर हनुमान जी की भी यहां पूजा होती है।

महत्त्वपूर्ण तिथियां…

मंदिर में कलश के साथ तीन गुंबद हैं। वार्षिक प्राण प्रतिष्ठा वर्षगांठ १४ फरवरी को आयोजित की जाती है। अन्य महत्वपूर्ण तिथियां श्रावण मास के अंतिम रविवार, हनुमान जयंती, अघन नवमी, भादो अमावस और अन्नकूट हैं।

About Author

Leave a Reply