April 22, 2024

दिवंगत अभीनेता सुशांत सिंह राजपूत की कालमृत्यु के बाद से कंगना समेत कई सिने कलाकारों ने सीबीआई जांच कि बात कही है, क्यूंकि सभी को पुलिस की जांच पर शक है। कलाकारों कि इस कड़ी में एक नया नाम जुड़ गया है। अब शेखर सुमन भी सीबीआई जांच की बात कर रहे हैं। कई लोगों का कहना है कि सुशांत की सुसाइड के पीछे गहरा राज छिपा है। हाल ही में शेखर सुशांत के पिता से मिलने पटना पहुंचे। इसके बाद उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई सवाल उठाए। सुशांत के गले पर निशान, उनका सुसाइड नोट न छोड़ना, कई सवाल हैं जो शक के घेरे में हैं। और अब शेखर सुमन का कहना है कि कुछ ही महीनों के भीतर सुशांत ने करीब 50 सिम कार्ड बदले थे। शेखर सुमन ने कहा कि घर पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। अगर सुसाइड नोट होता तो यह ओपन और शट केस हो जाता। उसी वक्त ये केस खत्म हो जाता। सुसाइड नोट नहीं छोड़ा है तो ऐसे में कई सवाल सामने आ रहे हैं। और वे ये हैं कि जो लड़का रात को पार्टी कर रहा था, जो सुबह उठकर प्ले स्टेशन पर था, जो एक ग्लास जूस मांगता है, आकर बैठा है, उसके मन में अचानक ऐसी क्या बात आई कि उसने कहा चलो अब उठते हैं सुसाइड करते हैं।

शेखर ने आगे कहा कि ऐसी कौन-सी वजह होगी जो सुशांत ने कुछ ही महीनों के भीतर 50 सिम कार्ड बदल डाले। एक एक्टर तभी सिम कार्ड बदलता है जब उसे किसी का डर होता है या खतरा लग रहा होता है या फिर उसे कोई धमकी दे रहा होता है। वहीं, शेखर सुशांत के गले पर मौजूद निशान को लेकर बताते हैं कि अगर उसने कुर्ते से फांसी लगाई तो गले पर निशान ज्यादा बड़ा होता।

अब आश्चर्यजनक बात यह है कि जिस मुंबई पुलिस का महिमामंडन हर एक फिल्म, हर एक शो आदि में होता है वही मुंबई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या को 15 दिन से ज्यादा हो जाने के बाद भी कितनी आगे बढ़ पाई है और कितने लोगों से पूछताछ कर सकी है?

सोशल मीडिया समेत राजनीति गलियारे एवं सिने कलाकार भी सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। इस बीच एक हैरान करने वाली जानकारी सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस को सुशांत के मोबाइल की फोरेंसिक रिपोर्ट मिल गई है और इस रिपोर्ट में जो बात सामने आई है उसे लेकर फैंस की चिंता और बढ़ गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक सुशांत ने आत्महत्या करने से पहले सुबह करीब 10:15 बजे गूगल पर अपना नाम ‘Sushant Singh Rajput’ सर्च किया था। इस रिपोर्ट में ये दावा भी किया जा रहा है कि सुशांत ने इसके बाद खुद से जुड़े कुछ न्यूज आर्टिकल और रिपोर्ट्स भी पढ़ी थीं। अब सवाल ये उठता है कि आखिर सुशांत खुद के बारे में क्या जानना चाहते थे। अब तक की पुलिस जांच के अनुसार सुशांत डिप्रेशन में थे। तब तो सवाल यह है की किस बात को लेकर थे। पुलिस ने जो कुछ इस जांच में अब तक हासिल किया है, वह ये इशारा करता है कि सुशांत की परेशानी की वजह क्या थी। अब तक पुलिस इस मामले में सुशांत के मित्रों, परिचितों और परिजनों को मिलाकर 29 लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है। इन बयानों से पुलिस इस निष्कर्ष पर पहुची है कि सुशांत अपनी सामाजिक प्रतिष्ठा के नुकसान से परेशान थे और उनको लगता था कि ये सब साजिशन किया जा रहा है।

वाह ! मुंबई पुलिस आपने तो फैसला भी सुना दिया, तब तो आपसे अब कोई अपेक्षा करना ही बेमानी है। जांच तो होनी ही चाहिए….

चमकते सिनेमा का काला सच

सुशांत की मौत के पीछे छुपा सच

 

भारतीय सिनेमा पर लॉबी का कब्जा

About Author

Leave a Reply